स्टॉक मार्किट में निवेश करने का सही तरीका।

आईये जानते है की स्टॉक मार्किट में किस तरह से निवेश करे जिस से आप को अच्छा लाभ हो सके।  

सब से पहले मै आप को एक किसान का उद्धरण ले कर समझना चाहुगा। क्या आप जानते है की एक किसान अपनी फसल कैसे लगता है और फिर फसल पकने या फल लगने का इंतेज़ार करता है।  उस के बाद उसे कैसे काटता है। आइये मै आप को विस्तार से बताता हु।  

जब एक किसान कोई फसल लगता है तो वो कोई एक, दो या चार पौधे नहीं लगता बल्कि वो बहुत सरे पौधे लगता है और जो पौधे अलग अलग फल या सब्जी के होते है।  सारी फसल लगाने के बाद वो उस की देख रेख करता है और पूर्ण धैर्य से उस फसल में फल आने का इंतेज़ार करता है। 

अब खेत में ख़राब और सड़े हुए पत्तो की काट छांट की जाती है और अगर किसान को लगता है कि कोई पौधा बीमार हो रहा है और वो कोई भी खाद से ठीक नहीं हो पायेगा तो उस पौधे को काट कर उस के स्थान पर नया पौधा लगाया जाता है। 

अलग अलग सब्जी या फल की फसल का कटाई का समय भी अलग अलग होता है। 

ओर जब कोई फसल पक जाती है मतलब उस पर फल आने लगते है तो हम सारे पेड़ो को नहीं काटते बल्कि सिर्फ उस के फल तोड़ते है। 

अंत में आप देखते है कि सारे पौधे बड़े हो कर वृक्ष नहीं बनते बल्कि कुछ बीमारी का शिकार हो कर मर जाते है, कुछ तूफान में गिर जाते है, ओर कुछ बहुत बड़े वृक्ष बन जाते है ओर बहुत जयादा फल देते है ओर कुछ कम फल देते है।  पर अंत में कुल मिला कर किसान को अच्छे फल प्राप्तः होते है। 

ये फल धेर्य का होता है जो किसान ने बनाये रखा ओर कुछ पोधो के मर जाने पर या टूट कर गिर जाने पर शोक नहीं किय।  

अब मै आप को बताना चाहुगा कि यही फसल ओर किसान के नियम अगर आप स्टॉक मार्किट में लगाएंगे तो आप को बहुत फ़ायदा होगा। 

जानना चाहेंगे कैसे। आइये मै आप को बताता हु। 

सब से पहले आप हर सेक्टर के सब से अच्छे शेयर्स का चुनाव करे जैसे कि किसान एक , दो, या चार पौधे नहीं लगता बल्कि बहुत सारे पौधे ओर बहुत सारी अलग अलग फसल लगता है उसी प्रकार आप को भी हर अच्छे सेक्टर के अच्छे शेयर्स में निवेश करना होग।  

जैसे हर तरह कि फसल लगाने का सही मौसम ओर सही समय होता है उसी प्रकार आप किसी सेक्टर के अच्छे शेयर्स में निवेश करने के लिए सही समय का इंतेज़ार करे मतलब ये कि जब कोई सेक्टर के सारे शेयर्स के भाव बहुत गिर चुके हो ओर वो सारे शेयर्स अपनी बुक वैल्यू पर या उस से कम कीमत पर मिल रहे हो।  

या फिर आप तभी निवेश करे जब शेयर मार्किट अपने उच्चतम (हाईएस्ट) स्तर से 20% निचे गिर जाये। जब शेयर मार्किट अपने उच्चतम स्तर से 20% या उस से जयादा गिर जाती है तो उस को bear फेज कहते है।

शेयर मार्किट हर 2 से 4 साल में 20% या उस से जयादा गिरती है जो एक सही समय होता है निवेश करने का। 

ओर अगर आप छोटी अवधि के लिए निवेश करना चाहते है तो आप तब निवेश करे जब शेयर मार्किट 8 से 10 % गिर जाये।  आप को बताना चाहुगा कि शेयर मार्किट हर साल 1 से 2 बार गिरती है 8 से 10 %, जिस से आप को निवेश का सही मौका मिलता रहता है। 

आप का पोर्टफोलियो तैयार हो जाने के बाद आप को धैर्य के साथ इंतज़ार करना चाहिए ओर जब स्टॉक मार्किट मूल्यांकन (market valuation ) बहुत बढ़ जाये ओर स्टॉक मार्किट का प इ (p e - price earning ratio ) २६ से जयादा हो जाये तब आप को थोड़े थोड़े शेयर्स बेच देने चाहिए।  उस समय आप को वो शेयर्स बेचने चाहिए जो आप ने बहुत अधिक भाव में ख़रीदे हो। 

सस्ते ख़रीदे हुए अच्छे शेयर्स को कभी नहीं बेचना चाहिए अगर आप लम्बे समय के निवेशक है तो। 

इस तरह से किये हुए निवेश से आप स्टॉक मार्किट के जोखिम को बहुत कम कर सकते है ओर लम्बे समय तक निवेश करने पर अच्छा मुनाफा कमा सकते है। 

आप को यह पोस्ट कैसा लगा।  कमेंट बॉक्स में हमे ज़रूर बताये ओर हमारी यह पोस्ट को शेयर करना न भूले। 

धन्याद 
निवेश शक्ति परिवार 

Comments

Popular posts from this blog

Reminiscences of a Stock Operator by Edwin Lefèvre

Security Analysis By Benjamin Graham, David L. Dodd

The Intelligent Investor by Benjamin Graham